Wednesday, July 28Persecution of Sanatani/Hindus is Our Persecution.

हिंदू दमन, भारत का दमन है, हम सबका दमन है

hinduhumanrw@gmail.com |

Chhatrapati Shivaji

Chhatrapati Shivaji

मराठा वीर शिवाजी ने किस प्रकार औरंगजेब की कट्टरवादी-संकीर्ण नीतियों का विरोध किया और अपने समकालीन स्वच्छाचारी शासकों से लोहा लिया, इसे लालाजी ने ऐतिहासिक तथ्यों से प्रमाणित किया है। महाकवि भूषण के शब्दों में-हिंदू, हिंदी और हिंद के रक्षक शिवाजी महाराज की स्फूर्तिदायक जीवनी के लेखन की पात्रता लालाजी जैसे देशभक्त में ही थी।
छत्रपति शिवाजी के इस जीवन चरित का ऐतिहासिक महत्व तो है ही जिसकी समीक्षा तो मराठा इतिहास के प्रमाणिक विद्वान् ही करेंगे, तथापि सर्वसाधारण को शिवाजी महाराज की एक सुंदर झांकी भी मिलेगी, इस विश्वास के साथ इस ग्रंथ को पाठकों के समक्ष प्रस्तुत किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *